Breaking News
Home » मध्य प्रदेश » डिंडोरी » व्यक्तिगत एवं सामूहिक समस्याओं की हुई जनसुनवाई

व्यक्तिगत एवं सामूहिक समस्याओं की हुई जनसुनवाई

व्यक्तिगत एवं सामूहिक समस्याओं की हुई जनसुनवाई
व्यक्तिगत एवं सामूहिक समस्याओं की हुई जनसुनवाई

जनसुनवाई डिण्डौरी जिले में काफी लोकप्रिय हो चुका है। मंगलवार को जिले के दूर-सुदूर क्षेत्रों के ग्रामीण जनसुनवाई में आकर कलेक्टर श्रीमति छवि भारद्वाज को अपनी समस्याओं से अवगत कराते है।

कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को जनसुनवाई के शिकायतों का शत-प्रतिशत निराकरण करने को कहा है। अब 80 प्रतिशत से कम शिकायतों का निराकरण करने वाले अधिकारियों का वेतन रोका जावेगा। कलेक्टर ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए है। कलेक्टर के द्वारा जनसुनवाई की शिकायतों को लेकर रोजाना मानीटरिंग की जाती है और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए जाते है।

जनसुनवाई में लोगों के द्वारा अपनी गांव एवं व्यक्तिगत समस्याओं से संबंधित आवेदन-पत्र प्रस्तुत किए गए है। जनसुनवाई में भूमि संबंधित विवादों में बटवारा, सीमांकन, भूमि पर काबिज जैसी समस्याओं का निराकरण हुआ है। जनसुनवाई में बीमार मरीजों के ईलाज का पूरा-पूरा प्रबंध किया गया है। इसी प्रकार से वनभूमि पर काबिज लोगों ने वनाधिकार पट्टो की मांग से संबंधित आवेदन-पत्रों का निराकरण किया गया है।जनसुनवाई में इंदिरा आवास योजना के अन्तर्गत हितग्राहियों ने आवेदन-पत्र प्रस्तुत कर अपनी समस्याओं का निराकरण कराया है।

गांवों की समस्याओं की जनसुनवाई
जनसुनवाई में कलेक्टर के द्वारा गांवों में सड़क-मार्ग, पेयजल, बिजली की व्यवस्था संबंधित समस्याओं का निराकरण किया गया है। जनसुनवाई में किसानों की समस्याओं का निराकरण करते हुए उन्हें सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई गई है और शासन की योजनाओं से लाभन्वित किया गया है। जनसुनवाई में कलेक्टर के समक्ष पुलिस विभाग से संबंधित समस्याओं के भी आवेदन-पत्र प्रस्तुत किए गए है। जिस पर कार्यवाही करते हुए कलेक्टर ने पुलिस विभाग को निर्देशित कर पीड़ियों की मदद की गई है और पुलिस थानों से संबंधित समस्याओं का निराकरण भी कराया है। यही वजह है कि डिण्डौरी जिले में जनसुनवाई लोगों के लिए अपनी समस्याओं का निराकरण करने के लिए एक सशक्त माध्यम बन गया है।
जनसुनवाई में 75 आवेदन आए

जनसुनवाई में आज 75 आवेदनों पर सुनवाई की गई। कलेक्टर ने शिकायतों का तत्काल निराकरण किया और जिन आवेदन पत्रों का तत्काल निराकरण नहीं हो नहीं हो सकता था, उसके लिए आवेदनों को समय-सीमा दे दी गई है। जनसुनवाई में मोतीराम ग्राम रामनगर ने अतिक्रमण निवारण, संतोष कुमार वैश्य ने लोकसभा निर्वाचन कार्य में भोजन व्यवस्था का भुगतान करने, शांति बाई ग्राम समनापुर ने मकान मरम्मत हेतु राशि प्रदाय करने, ग्राम पड़रिया के ग्रामीणों ने प्रा.शा. शाला में किचन शैड का निर्माण कार्य पूरा करने के संबंध में आवेदन पत्र प्रस्तुत किए हैं।

जनसुनवाई में श्याम बिहारी ग्राम-कुकर्रामठ ने शांति धाम की मजदूरी का भुगतान करने तथा ग्राम-पोंड़ी के लोगों ने ई-पंचायत भवन का मजदूरी भुगतान करने की मांग की गई है। ग्राम पंचायत करौंदी में आंगनबाडी स्कूल में मध्यान्ह भोजन का संचालन करने तथा रीमा बाई ने राष्ट्रीय परिवार सहायता की मांग की है। जनसुनवाई में संतोष परस्ते ने आंगनबाडी भवन ग्राम पंचायत-देवरी माल (बर्रा टोला) की सामग्री का भुगतान करने, रामलली ग्र्राम-कुकर्रामठ ने रसोईया का मानदेय भुगतान तथा भोलाराम ने इंदिरा आवास की द्वितीय किस्त जारी करने के संबंध में आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया है।

Check Also

प्रदेश के सभी शासकीय स्कूल वर्चुअल क्लास सुविधा से जुडेंगे

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सूचना प्रौद्योगिकी का क्षेत्र संभावनाओं से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + 3 =